Breaking News

रेमडेसिविर दवा को लेकर घबराएं नहीं - कलेक्टर संजय गुप्ता

शोधात्मक औषधि रेमडेसीविर इंजेक्शन के उपयोग हेतु समिति गठित

रेमडेसिविर दवा को लेकर घबराएं नहीं - कलेक्टर संजय गुप्ता


हरदा /मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर सुधीर कुमार जैसानी ने अपर संचालक (आई.डी.एस.पी) संचालनालय स्वास्थ्य सेवायें म.प्र. भोपाल के पत्र 11 अप्रैल 2021 के द्वारा चिन्हांकित जिला अस्पतालों के डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर पर शोधात्मक औषधि रेमडेसीविर इंजेक्शन के उपयोग के संबंध में समिति गठित की है। समिति में सिविल सर्जन डॉ. शिरिष रघुवंशी मोबाईल नम्बर 9826663422 अध्यक्ष, मेडिकल स्पेशलिस्ट डॉ. शैलेन्द्र सिंह ठाकुर मोबाईल नम्बर 9826329275 सदस्य तथा निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. अशोक वर्मा मोबाईल नम्बर 9425644201 सदस्य होंगे।

डॉ. जैसानी ने निर्देशित किया है कि रेमडेसीविर इंजेक्शन के उपयोग हेतु उपचार करने वाले चिकित्सक द्वारा पूर्व आंकलन के उपरांत उक्त औषधि के उपयोग की अनुशंसा जाये। इमरजेंसी युज़ ऑथराइजेशन की अनुशंसा सहित अभिमत चिकित्सकीय आकलनकर्ता चिकित्सक के द्वारा सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक को प्रस्तुत किया जायें। उपरोक्त को दृष्टिगत रखते हुए सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक द्वारा इमरजेंसी यूज ऑथराइजेशन अनुमति दी जाये। जारी ईयुए सर्टीफिकेट का रिकार्ड सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक कार्यालय में विधिवत संधारित की जाये।  मेडिसिन रेमडिसिवर , मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी की देख रेख में हैं । गठित समिति के अतिरिक्त कोई शासकीय चिकित्सक किसी रोगी को रेमडेसीविर इंजेक्शन का प्रिसक्रिप्शन जारी करने हेतु अधीकृत नहीं होगा। निजी चिकित्सालय के मरीजों की भी यही समिति रेमडेसीविर इंजेक्शन के उपयोग हेतु अनुशंसा करेगी।

रेमडेसिविर दवा को लेकर घबराएं नहीं - कलेक्टर संजय गुप्ता

हरदा / कलेक्टर श्री संजय गुप्ता ने आज जिलावासियों से अपील की, कि रेमडेसिविर के लिए स्वास्थ्य विभाग की निर्धारित गाइडलाइन हैं और उसके अनुसार ही मरीजों को चिकित्सक द्वारा प्रेस्क्राइब की जाती है। रेमडेसिविर को लेकर घबराने की आवश्यकता नहीं । कोरोना के हर मरीज़ को यह दवा नहीं दी जाती। गाइड लाइन के अनुसार ही लक्षण प्रतीत होने पर चिकित्सक द्वारा इसकी सलाह दी जाती है।

कोई टिप्पणी नहीं