Breaking News

☺️ खुशखबर : अब दसवीं और बारहवीं की मेरिट के आधार पर नौकरी देने की तैयारी, विभागों से मांगी पदों की जानकारी

☺️ खुशखबर : अब दसवीं और बारहवीं की मेरिट के आधार पर नौकरी देने की तैयारी, विभागों से मांगी पदों की जानकारी

लोकमतचक्र. कॉम।

भोपाल : प्रदेश के सरकारी महकमों में चतुर्थ श्रेणी और तृतीय श्रेणी के चुनिंदा पदों पर भर्तियों के लिए चयन परीक्षा  समाप्त करने जा रही है। इसकी जगह दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं के मेरिट अंकों के आधार पर आवेदनकर्ताओं को इन पदों पर शासकीय नौकरियों में नियुक्ति दिए जाने की तैयारी है। मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद इस संबंध में निर्देश जारी कर सभी विभागों से जानकारी मांगी गई है।

सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी सरकारी महकमों के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिवों को इस संबंध में पत्र लिखकर पूछा है कि उनके विभाग में ऐसे कितने पद है जिसमें शैक्षणिक योग्यता कक्षा दसवीं और बारहवीं है। ऐसे पदों को चिन्हित करते हुए विभाग की भर्ती प्रक्रिया भी बताएं और सामान्य प्रशासन विभाग को जानकारी भेजें। राज्य सरकार प्रदेश के सरकारी महकमों की कुछ चिन्हित सेवाओं में चयन के लिए परीक्षा की व्यवस्था समाप्त करेगी। इसके स्थान पर ऐसी व्यवस्था लागू की जाएगी कि इन शासकीय पदों के लिए जो आवेदन करेंगे। उनमें से दसवीं और बारहवीं के अंकों की मेरिट सूची तैयार की जाएगी। सर्वाधिक अंक पाने वाले बेरोजगार युवाओं का चयन इन पदों के लिए किया जाएगा। इसमें चतुर्थ श्रेणी और तृतीय श्रेणी के भी कुछ पदों को शामिल किया जा सकता है।

सीएम की घोषणा के पालन में हो रही कवायद-

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस संबंध में घोषणा की थी कि शासकीय नौकरियों में भर्ती के लिए परीक्षा की व्यवस्था समाप्त की जाएगी। चिन्हित पदों पर युवाओं के दसवीं और बारहवीं परीक्षा में मिले अंकों की मेरिट के आधार पर उनकी भर्ती की जाएगी। आवेदन करने वाले युवाओं के इन कक्षाओं के अंकों की मेरिट सूची बनेगी और उसमें से ही सर्वाधिक अंक लाने वाले बेरोजगार का चयन इन पदों के लिए किया जाएगा। अब मुख्यमंत्री की इस घोषणा को पूरा करने के लिए सामान्य प्रशासन विभाग ने कवायद शुरू कर दी है।

यह होगा फायदा-

सरकारी महकमों में चयन परीक्षा के आयोजन के लिए लगने वाला शुल्क, समय आने-जाने पर होने वाला खर्च और उसके बाद इंटरव्यू तथा उसमें होने वाली अनियमितताओं की शिकायतों पर रोेक लग सकेगी।

कोई टिप्पणी नहीं