Breaking News

राज्यसभा में पहली बार भाजपा 100 के पार, कांग्रेस सदस्यों की संख्या में ऐतिहासिक गिरावट

राज्यसभा में पहली बार भाजपा 100 के पार, कांग्रेस सदस्यों की संख्या में ऐतिहासिक गिरावट

लोकमतचक्र.कॉम।

नई दिल्ली: राज्यसभा की चार सीटें जीतने के बाद उच्च सदन में भाजपा सांसदों की संख्या 101 हो गई है. जबकि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन के अब कुल 117 सदस्य हो गये हैं. इससे साफ है कि एनडीए को राज्यसभा में कोई भी बिल पास कराने में ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ेगी.


1980-90 के कार्यकाल के बाद पहली बार किसी एक पार्टी के खेमे में सदस्यों की संख्या 100 से ज्यादा हुई है. यह एक रिकॉर्ड भी है. वहीं दूसरी ओर कांग्रेस ने सबसे कम सदस्य होने का रिकॉर्ड कायम किया है. राज्यसभा में कांग्रेस के अब मात्र 29 सदस्य ही रह गए हैं. एनडीए खेमे में कुल 117 सांसद हो गए हैं जो बहुमत के आंकड़े को पार करते हैं. राज्यसभा के 13 सीटों के चुनाव में 4 सीटें बीजेपी को हासिल हुई है. वहीं आम आदमी पार्टी को 5 सीटें और कांग्रेस, सीपीआई, सीपीआईएम, यूपीपीसीएल को एक-एक सीटें मिली हैं.

कांग्रेस सदस्यों की संख्या में ऐतिहासिक गिरावट: राज्यसभा के 245 सदस्यों में से एनडीए के खेमे में 117 सीटें आना बीजेपी की बड़ी उपलब्धि मानी जा सकती है. क्योंकि सत्ता में होते हुए भारतीय जनता पार्टी को किसी भी विधेयक को लोकसभा से पारित कराने के बाद राज्यसभा में पारित कराने में विरोधियों के आगे काफी मशक्कत करनी पड़ती थी. अब पार्टी नेता इस बात से उत्साहित हैं कि पार्टी को मिले ट्रिपल डिजिट के सदस्यों की संख्या में बीजेपी की लोकप्रियता के ग्राफ को और काफी आगे बढ़ा दिया है. इसके उलट कांग्रेस के ग्राफ को देखा जाए तो 99 सदस्यों की संख्या वाली कांग्रेस अब मात्र 29 पर सिमटकर रह गई है.

क्या बोले राज्यसभा सांसद: भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा में सांसद और राज्यसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक शिव प्रताप शुक्ला ने बातचीत में कहा कि चार राज्यों में जो बहुमत मिला है वह बहुत बड़ा है. जनता ने बीजेपी को हर क्षेत्र में स्वीकारा है. यह हमारे लिये गौरव की बात है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इस गौरव को प्राप्त किया गया है और इसके लिए प्रधानमंत्री और गृह मंत्री सहित उच्च सदन के पार्टी सदस्य बधाई के पात्र हैं.

बिल पास कराना होगा आसान: भाजपा सांसद शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि बीजेपी निरंतर जनता के कार्यों को लेकर आगे बढ़ रही है. भाजपा के राज्यसभा सचेतक शिव प्रताप शुक्ला का इस सवाल पर कि क्या अब विधेयकों को पारित कराने में दिक्कतें नहीं आएंगी? उन्होंने कहा कि हाल की परिस्थितियों को देखा जाए तो बहुत ज्यादा दिक्कत नहीं आ रही थी क्योंकि कांग्रेस की संख्या काफी कम हो चुकी है. कई पार्टियां भी भारतीय जनता पार्टी का साथ दे रहीं थीं. एनडीए के साथ ही गैर एनडीए के लोग भी सरकार के बिल को पारित कराने में सरकार का साथ दे रहे हैं. हां ये जरूर है कि अब बिल पारित कराना और भी सुगम हो जाएगा.

बीजेपी करती है जनता की सेवा: इस सवाल पर कि कांग्रेस अब उच्च सदन में सबसे कम संख्या वाली पार्टी बन गई है? बीजेपी के राज्यसभा सांसद ने कहा कि इसमें अब कोई आश्चर्य की बात नहीं है. भारतीय जनता पार्टी अब सभी जगह बहुमत की स्थिति में रहेगी. उन्होंने कहा कि कभी ऐसा समय था जब राजीव गांधी ने भाजपा के कम सदस्यों के लिए लोकसभा में बीजेपी पर तंज कसा था. लेकिन आज इतिहास वही दोहरा रहा है और वही स्थान कांग्रेस को दे दिया गया है. इसके लिए कांग्रेस खुद जिम्मेदार है क्योंकि बीजेपी जनता की सेवा करती है और कांग्रेस सिर्फ बयानबाजी.

इस सवाल पर कि कांग्रेस लगातार महंगाई को लेकर दोनों ही सदनों में सरकार को घेर रही है? शुक्ला का कहना है कि पेट्रोल डीजल की कीमत क्यों बढ़ी हैं. यह सभी जानते हैं और जनता भी जानती है. मगर, जनता भारतीय जनता पार्टी के साथ है. उन्होंने कहा कि रूस और यूक्रेन में जो लड़ाई चल रही है, उसका असर पेट्रोलियम पदार्थों पर पड़ा है. चुनाव खत्म होने से इसका कोई संबंध नहीं है. कांग्रेस इसलिए यह बातें कह रही है कि सिर्फ वह अपनी उपस्थिति दर्ज करा सके. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोशिश में है कि जनता को जल्द ही राहत दी जाए.

कोई टिप्पणी नहीं